EPFO Update : EPFO kyc update, अब पेंशनधारकों को मिलेगी पुरानी पेंशन

EPFO Update : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organisation ) ने शहर में 650 पेंशनभोगियों की उच्च पेंशन ( Higher Pension ) पर रोक लगा दी है ! अब सेवानिवृत्त कर्मचारियों को उनके वास्तविक वेतन के आधार पर पेंशन दी जाएगी ! उच्च पेंशन बंद करने का यह फैसला सुप्रीम कोर्ट के फैसले में संशोधन के बाद लिया गया है ! उच्च पेंशन बंद होने से अब पेंशनभोगियों को पुरानी पेंशन ( Old Pension ) ही मिलेगी !

 

 

EPFO Update : EPFO kyc updat

EPFO kyc update

चरण 1: इस वेबसाइट पर जाएं: ईपीएफ पोर्टल

चरण 2: अपना पैन, नाम, जन्म तिथि, मोबाइल नंबर और कैप्चा दर्ज करें।

चरण 3: ‘प्राधिकरण पिन प्राप्त करें’ पर क्लिक करें।

चरण 4: अस्वीकरण के बाद ‘मैं सहमत हूं’ पर क्लिक करें, और पंजीकृत ईमेल आईडी पर आपको प्राप्त ओटीपी दर्ज करें।

चरण 5: ‘वैलिडेट ओटीपी एंड गेट यूएएन’ पर क्लिक करें। आपको पंजीकृत मोबाइल नंबर पर यूएएन प्राप्त होगा।

EPFO Update

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( EPFO ) ने साल 2017 में सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले के बाद पेंशनभोगियों को ज्यादा पेंशन देने का फैसला किया था ! इसमें ऐसे सभी कर्मचारियों को उच्च पेंशन का लाभ पैरा 26 (2) के तहत शुरू किया गया था ! ईपीएफ योजना ( EPF Yojana ) 1957, ईपीएस 1995 का पैरा 11 (3) ! जिन्होंने वास्तविक वेतन पर भविष्य निधि का योगदान दिया !

650 पेंशनभोगियों को बढ़ी पेंशन

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organisation ) ने सभी कर्मचारियों को शामिल करते हुए उन कर्मचारियों को भी लाभ दिया था जिनकी ईपीएफ राशि वेतन के अनुसार जमा नहीं हुई थी ! ऐसे कर्मचारियों ने उच्च पेंशन ( Higher Pension ) के लिए अधिक राशि जमा भी की थी ! इसके बाद पिछले वर्षों से शहर के करीब 650 पेंशनभोगियों को उच्च पेंशन के रूप में बढ़ी हुई Pension मिल रही थी ! अलग-अलग कैटेगरी के मुताबिक यह बढ़ी हुई पेंशन 2 हजार रुपये से बढ़ाकर 15 हजार रुपये की जा रही है.

पेंशन 1200 से 2200 रुपये (EPFO Update )

कर्मचारियों को पहले न्यूनतम पेंशन ( Minimum Pension ) 1200 से 2500 रुपये थी ! ज्यादा पेंशन मिलने के बाद इसमें इजाफा किया गया ! 2200 रुपये तक मिलने वाली पेंशन को बढ़ाकर 5500 रुपये कर दिया गया ! इसी तरह अन्य कर्मचारियों की पेंशन ( Pension ) में भी खासी बढ़ोतरी हुई है ! अब उच्च पेंशन बंद होने से कर्मचारी पुरानी पेंशन पर आ गए हैं !

अंतर राशि से अधिक दी गई पेंशन

उच्च पेंशन में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organisation ) ने कई कर्मचारियों से उनके वेतन अंतर की राशि जमा की थी ! कर्मचारी बता रहे हैं कि यह रकम 2 लाख रुपए थी ! ऐसे में अब जबकि ज्यादा पेंशन बंद हो गई है, कई कर्मचारियों ( EPF Workers ) ने जमा की गई इस राशि से ज्यादा पेंशन दी है !

पीएफ से निकाल सकते हैं दोगुना पैसा (EPFO Update )

कोरोना संक्रमितों की बढ़ती संख्या को देखते हुए सरकार ने यह सुविधा दी है कि अब कर्मचारी अपने पीएफ खाते ( PF Account ) से दोगुना पैसा निकाल सकते हैं. दरअसल, इससे पहले EPFO ने कर्मचारियों को नॉन-रिफंडेबल एडवांस निकालने की इजाजत दी थी ! लेकिन अब यह सुविधा दो या दो बार तक अग्रिम राशि निकालने के लिए उपलब्ध है !

यानी अब कोरोना से परेशान कर्मचारी इस फंड ( Provident Fund ) को दो बार निकाल सकता है ! जबकि पहले यह सुविधा सिर्फ एक बार मिलती थी ! दरअसल, सरकार की ओर से यह विशेष सुविधा मेडिकल इमरजेंसी ( Medical Emergency ) के तहत दी जा रही है ताकि कोई भी कर्मचारी आर्थिक रूप से परेशान न हो, इसलिए यह सुविधा दी गई है !

17.07 लाख वर्कर्स EPFO के साथ जुड़े

ईपीएफओ ( EPFO ) के डाटा से पता चलता है कि अप्रैल 2022 में 17.07 लाख वर्कर्स ईपीएफओ के साथ जुड़े ! वहीं मार्च 2022 में यह संख्‍या 15.32 लाख थी ! वहीं कुल पे-रोल में सालाना आधार पर अप्रैल 2021 के मुकाबले! 4.32 फीसदी की बढोतरी हुई है ! राज्‍यवार देखें तो महाराष्‍ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडू, हरियाणा, गुजरात और दिल्‍ली में अप्रैल 2022 में करीब 11.6 लाख लोगों को रोजगार मिला !

महिलाओं की संख्‍या बढ़ी

अप्रैल 2022 में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन ( Employees Provident Fund Organisation ) से जुड़ने वाली महिला कर्मचारियों की संख्‍या इस अवधि में जुड़ने वाले कुल सब्‍सक्राइबर्स ( EPF Subscribers ) का 21.38 फीसदी रही ! अप्रैल में मार्च के मुकाबले महिला सब्‍सक्राइबर्स की संख्‍या में 17,187 की बढ़ोतरी हुई !

EPFO : EPFO ने बदला आदेश, अब पेंशनधारकों को मिलेगी पुरानी पेंशन

EPFO : कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) ने शहर में 650 पेंशनधारकों की हायर पेंशन (Higher Pension) को बंद कर दिया गया है। अब सेवानिवृत्त कर्मचारियों को उनके वास्तविक वेतन के आधार पर ही पेंशन दी जाएगी। हायर पेंशन बंद करने का यह निर्णय सुप्रीम कोर्ट के फैसले में सुधार करने के बाद लिया गया है। हायर पेंशन (Higher Pension) बंद होने से अब पेंशनधारकों को पुरानी पेंशन ही मिलेगी।

EPFO पेंशनधारकों को हायर पेंशन देने का फैसला किया

कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (EPFO) साल 2017 में सुप्रीम कोर्ट के एक निर्णय के बाद पेंशनधारकों को हायर पेंशन (Higher Pension) देने का फैसला किया था। इसमें EPF योजना 1957 के पैरा 26 (2 ) EPS 1995 के पैरा 11 (3) के तहत ऐसे सभी कर्मचारियों को हायर पेंशन का लाभ देना शुरू किया गया था। जिन्होंने वास्तविक वेतन पर भविष्य निधि का योगदान दिया था।

650 पेंशनधारकों को मिली बढ़ी हुई पेंशन

EPFO ने सभी कर्मचारियों को शामिल करते हुए उन कर्मचारियों को भी लाभ दिया था जिनका EPF में वेतन के अनुसार राशि जमा नहीं हुई थी। ऐसे कर्मचारियों ने हायर पेंशन के लिए ज्यादा राशि भी जमा करवाई थी। इसके बाद पिछले सालों से शहर में करीब 650 पेंशनधारकों को हायर पेंशन के रूप में बढ़ी हुई पेंशन मिल रही थी। अलग अलग कैटेगरी के हिसाब से यह बढ़ी हुई पेंशन 2 हजार रुपये लेकर 15 हजार रुपये बताई जा रही है।

1200 से 2200 रुपये तक हुई पेंशन

कर्मचारियों को पूर्व कम से कम 1200 से लेकर 2500 रुपये तक की पेंशन थी। हायर पेंशन मिलने के बाद इसमें इजाफा हुआ था। 2200 रुपये तक मिलने वाली पेंशन बढ़कर 5500 रुपये तक बढ़ गई थी। ऐसे ही अन्य कर्मचारियों को पेंशन का खासा इजाफा हुआ था। अब हायर पेंशन बंद होने से कर्मचारी पुरानी पेंशन पर ही आ गए हैं।

अंतर की राशि से ज्यादा दे दी पेंशन

हायर पेंशन में कर्मचारी भविष्य निधि संगठन से कई कर्मचारियों से उनके वेतन अंतर की राशि जमा करवाई थी। कर्मचारी ही बता रहे हैं कि यह राशि 2 लाख रुपये थी। ऐसे में अब जब हायर पेंशन बंद हो गयी है तो कई कर्मचारियों द्वारा जमा की गई इस राशि से ज्यादा पेंशन दी जा चुकी है।

पेंशनहोल्डर्स के लिए गुड न्यूज, EPS 95 पेंशन स्कीम के तहत मिलेगी ज्यादा रकम, ब्याज भी बढ़कर मिलेगा
EPFO के पास दावा नहीं की गई जमा राशि 58000 हजार करोड़ रुपये है और इसका कुछ हिस्सा EPS 95 पेंशन स्कीम में ट्रांसफर करने पर शनिवार को EPFO की बोर्ड मीटिंग में लिया जाएगा.

क्या है EPS 95 पेंशन स्कीम

अभी ऑर्गनाइज सेक्टर के वे कर्मचारी जिनकी सैलरी (बेसिक पे + डीए) 15 हजार रुपये तक है, EPS-95 के तहत आते हैं. सैलरी का 8.33% EPS-95 पेंशन में जाता है यानी अधिकतम 1250 रुपए महीने का योगदान ही जमा हो सकता है. EPFO के मुताबिक 68 लाख ऐसे मेंबर्स हैं.

8.5% ब्याज दर ही देने का फैसला हो सकता है

शनिवार को होने वाली EPFO की बोर्ड बैठक में वित्त वर्ष 2022 के लिए भी ब्याज दर का भी फैसला लिया जाएगा . सूत्रों से मिलीं जानकारी के मुताबिक FY22 में भी सभी सब्सकाइबर्स को 8.5% ब्याज दर ही देने का फैसला लिया जा सकता है क्योंकि EPFO के सेंट्रल बोर्ड ऑफ ट्रस्टीज के सभी मेंबर्स 8.5% ब्याज दर के पक्ष में है क्योंकि मौजूदा साल में पूंजी की स्थिति ठीक है और इक्विटी निवेश में भी अच्छी कमाई हुई है.

ब्याज दरों में कमी नहीं ?
  • FY14 और FY15 में ब्याज दर 8.75%
  • FY16 में ब्याज दर 8.80%
  • FY 17 में ब्याज दर 8.65%
  • FY18 में ब्याज दर 8.55%
  • FY19 में ब्याज दर 8.65%
  • FY20 में ब्याज दर 8.5%
  • FY 21 में ब्याज दर 8.5.%

 

Join WhatsappGroup Click  Here
Follow  facebook Page Click  Here
Subscribe youtube channel Click  Here
Subscribe telegram channel Click  Here

 

UpaSarapanch Ki Salary Kya Hoti Hai।।उपसरपंच की सैलरी कितनी होती है

 

Free Silai Machine Yojana 2022।सभी महिलाओं को मिलेगी फ्री सिलाई मशीन, ऐसे करें आवेदन

E-shram Card।।घर बैठे करें ई-श्रम कार्ड के लिए रजिस्ट्रेशन, होगा 2 लाख का फायदा

आपके आधार कार्ड के नाम पर कितने सिम चल रहे हैं :-

उपसरपंच की सैलरी कितनी होती है:-

उपराष्ट्रपति की सैलरी कितनी होती है:-

सरपंच की सैलरी कितनी होती है :-

वार्ड पंच सैलरी 2022:-

ग्राम पंचायत बजट लिस्ट कैसे देखें:-

PM Gramin Awas Yojana 2022 :-

 

Gram Sevak Salary in Rajasthan :-

E-Shram Card Yojana Registration 2022 सभी लोगों को मिल रहे हैं ₹1000 प्रतिमाह :-

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!