FD New Rule : रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) फिक्स्ड डिपॉजिट (FD) को लेकर कई बड़े बदलाव पर गाइडलाइन जारी कर दिया है।

सभी बैंको में फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिलने वाले ब्याज को लेकर बदलाव किए गए हैं।

सभी बैंकों में ब्याज दर अलग अलग हो सकती है। RBI की इस गाइडलाइन का फर्क कई बैंकों को सीधा पड़ेगा।

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) की तरफ से हाल ही में FD में बड़े बदलाव किए गए हैं। अगर आपने भी बैंकों में फिक्स्ड डिपॉजिट कराई हुई है तो

RBI ने कुछ नियमों में बदलाव किया है। जिसके चलते कुछ नए नियम प्रभावी हो गए हैं।

पिछले कुछ दिनों से सरकार ने सरकारी और गैर सरकारी बैंकों में एफडी पर ब्याज की दरें बढ़ाई हैं।

इसलिए अब FD कराने से पहले कुछ नियमों को जान लें। नहीं तो आपको बहुत बड़ा नुकसान हो सकता है।

अगर ग्राहक ने 5 साल की फिक्स्ड डिपॉजिट कराई है तो वह मैच्योरिटी वाला FD कहलाएगा।

अगर ग्राहक पैसे नहीं निकालता है तो उस दो तरह की कंडीशन होगी।