सन 1998 में केंद्र सरकार ने Kisan Credit Card Scheme की शुरआत की थी।

इसके अंतर्गत राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक द्वारा कृषि संबंधित खरीद के लिए लोन देने का प्रावधान है।

भारत सरकार की यह कोशिश है की किसान कम ब्याज दर पर ऋण ले सकें।  

भारतीय अर्थव्यवस्था में कृषि क्षेत्र का बड़ा योगदान है। बिना किसान हमारी अर्थव्यवस्था डगमगा जाएगी। किसान बिना खेती होना असंभव है। 

अगर आप भी किसान हैं। और योजना के अनुसार आप भी किसान क्रेडिट कार्ड बनवाना चाहते हैं। लेख में दिए निर्देशों को ध्यान से समझे।और अपना पंजीकरण करवाएं। 

– जो किसान PM किसान सम्मान निधि योजना से जुड़े हैं। वो भी क्रेडिट कार्ड का लाभ ले सकतें हैं। – क्रेडिट कार्ड प्राप्त करने के लिए आवेदक को रजिस्ट्रेशन फॉर्म बैंक में जमा करना पड़ेगा।

– भारत आत्मनिर्भर स्कीम के अन्तर्गत भी kisan क्रेडिट कार्ड बनाये जा रहे हैं। – किसानो को इसकी सहायता से आसानी से लोन प्राप्त हो जायेगा – वही मिलने वाले लोन की ब्याज दर भी बाकि लोन से कम रहेगी।

Forest Guard Bharti 2022: वन विभाग में 10वीं पास के लिए निकली बंपर भर्ती, 2500 पदों पर डायरेक्ट भर्ती, देखें डिटेल्स